NCERT Solutions For Class 10th Science Chapter 5 Periodic Classification of Elements (तत्वों का आवर्त वर्गीकरण ) in hindi

प्रश्न 1. क्या डोबेराइनर के त्रिक, न्यूलैण्ड के अष्टक के स्तम्भ में भी पाए जाते हैं? तुलना करके पता कीजिए।

उत्तर:

हाँ, पाए जाते हैं।

प्रश्न 2.

डोबेराइनर के वर्गीकरण की क्या सीमाएँ हैं?

उत्तर:

डोबेराइनर के वर्गीकरण की सीमाएँ-डोबेराइनर केवल तीन ही त्रिक बना सके, अन्य तत्वों का वर्गीकरण त्रिकों में नहीं हुआ।

प्रश्न 3.

Join Private Group - CLICK HERE
बोर्ड परीक्षा 2024लिंक
New Syllabus 2024Click Here
New Blueprint 2024Click Here
Exam Pattern 2024Click Here
Board Exam Time Table 2024Click Here
Practical Exam Date 2024Click Here

न्यूलैण्ड के अष्टक सिद्धान्त की क्या सीमाएँ हैं? (2019)

उत्तर:

न्यूलैण्ड के अष्टक सिद्धान्त की सीमाएँ:

  1. यह सिद्धान्त भारी तत्वों पर लागू नहीं था।
  2. अक्रियशील उत्कृष्ट गैसों को सम्मिलित करने पर अष्टक सिद्धान्त मेल नहीं खाता।
  3. कुछ असमान तत्वों को एक साथ रख दिया गया है।
  4. यह सिद्धान्त केवल कैल्सियम तक लागू होता है।

प्रश्न 1.

मैण्डलीफ की आवर्त सारणी का उपयोग कर निम्नलिखित तत्वों के ऑक्साइड के सूत्र का अनुमान कीजिए –

K, C, Al, Si, Ba

उत्तर : (i) पोटैशियम (K) वर्ग IA का धातु है। इसकी संयोजकता 1 है। इसलिए इसके ऑक्साइड का सूत्र K2O

(ii) कार्बन (C) वर्ग IV A का तत्व है। इसकी संयोजकता 4 है तथा इसके ऑक्साइड का सूत्र CO2 है।

(iii) A1, वर्ग III A का तत्व है। इसकी संयोजकता 3 है। इसलिए इसके ऑक्साइड का सूत्र A12O3 है।

(iv) सिलिकॉन (Si) IVA वर्ग का तत्व है। इसकी संयोजकता 4 है। इसलिए इसकी ऑक्साइड का सूत्र SiO2 है।

(v) Ba वर्ग IIA का तत्व है। इसकी संयोजकता 2 है। इसलिए इसकी ऑक्साइड का सूत्र BaO है।

प्रश्न 2.

Join Private Group - CLICK HERE

गैलियम के अतिरिक्त अब तक कौन-कौन से तत्वों का पता चला है जिसके लिए मैण्डलीफ ने अपनी आवर्त सारणी में खाली स्थान छोड़ दिया था? दो उदाहरण दीजिए।

उत्तर:

  1. स्कैण्डियम।
  2. जर्मेनियम।

प्रश्न 3.

मैण्डलीफ ने अपनी आवर्त सारणी तैयार करने के लिए कौन-सा मापदण्ड अपनाया?

उत्तर:

मैण्डलीफ ने अपनी आवर्त सारणी तैयार करने के लिए तत्वों के परमाणु द्रव्यमान एवं उनके भौतिक तथा रासायनिक गुणों की आवर्तता का मापदण्ड अपनाया।

प्रश्न 4.

आपके अनुसार उत्कृष्ट गैसों को अलग समूह में क्यों रखा गया?

उत्तर:

चूँकि उत्कृष्ट गैसें अक्रियाशील हैं तथा प्रकृति में ये केवल वायुमण्डल में बहुत कम मात्रा में पाई जाती हैं। इनका पता आवर्त सारणी के बनने के बाद चला तथा ये अन्य तत्वों से सर्वदा भिन्न थीं इसलिए आवर्त सारणी को छेड़े बिना इन्हें अलग समूह में रखा गया।

प्रश्न 1.

आधुनिक आवर्त सारणी द्वारा किस प्रकार से मैण्डलीफ की आवर्त सारणी की विविध विसंगतियों को दूर किया गया?

उत्तर:

आधुनिक सारणी में आधार परमाणु द्रव्यमान के स्थान पर परमाणु क्रमांक को माना गया तथा इसका दीर्घ रूप होने से मैण्डलीफ की आवर्त सारणी की विसंगतियाँ प्रायः दूर हो गईं।

प्रश्न 2.

मैग्नीशियम की तरह रासायनिक अभिक्रियाशीलता दिखाने वाले दो तत्वों के नाम लिखिए। आपके चयन का क्या आधार है?

उत्तर:

  1. कैल्सियम।
  2. स्ट्रॉन्शियम।

ये दोनों तत्व मैग्नीशियम के साथ समूह दो के तत्व हैं तथा इनकी बाहरी कोश में दो संयोजी इलेक्ट्रॉन हैं। ये धनात्मक संयोजी हैं।

प्रश्न 3.

निम्नलिखित के नाम बताइए –

  1. तीन तत्वों जिनके सबसे बाहरी कोश में एक इलेक्ट्रॉन हो।
  2. दो तत्वों जिनके के सबसे बाहरी कोश में दो इलेक्ट्रॉन हों।
  3. तीन तत्वों जिनका बाहरी कोश पूर्ण हों।

उत्तर:

1.

  • लीथियम (Li)।
  • सोडियम (Na)।
  • पोटैशियम (K)।

2.

  • मैग्नीशियम (Mg)।
  • कैल्सियम (Ca)।

3.

  • हीलियम (He)।
  • निऑन (Ne)।
  • आर्गन (Ar)।

प्रश्न 4.

लीथियम, सोडियम, पोटैशियम ये सभी धातुएँ जल से अभिक्रिया करके हाइड्रोजन गैस मुक्त करती हैं। क्या इन तत्वों के परमाणुओं में कोई समानता है?

हीलियम एक अक्रियाशील गैस है, जबकि निऑन की अभिक्रियाशीलता अत्यन्त कम है। इनके परमाणुओं में कोई समानता है?

उत्तर:

  • इनके परमाणुओं के बाह्यतम कोश में एक-एक इलेक्ट्रॉन हैं।
  • इनके परमाणुओं के बाह्यतम कोश संतृप्त हैं।

प्रश्न 5.

आधुनिक आवर्त सारणी में पहले दस तत्वों में कौन-सी धातुएँ हैं?

उत्तर:

पहले दस तत्वों में लीथियम (Li) एवं बेरीलियम (Be) दो धातुएँ हैं।

प्रश्न 6.

आवर्त सारणी में इनके स्थान के आधार पर इनमें से किस तत्व में सबसे अधिक धात्विक अभिलक्षण की विशेषता है?

Ga, Ge, As, Se, Be.

उत्तर:

Be.

MP Board Class 10th Science Chapter 5 पाठान्त अभ्यास के प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1.

आवर्त सारणी में बाईं से दाईं ओर जाने पर, प्रवृत्तियों के बारे में कौन-सा कथन असत्य

(a) तत्वों की धात्विक प्रकृति घटती है।

(b) संयोजकता इलेक्ट्रॉनों की संख्या बढ़ जाती है।

(c) परमाणु आसानी से इलेक्ट्रॉन का त्याग करते हैं।

(d) इनके ऑक्साइड अधिक अम्लीय हो जाते हैं।

उत्तर:

(c) परमाणु आसानी से इलेक्ट्रॉन का त्याग करते हैं।

प्रश्न 2.

तत्व X, XCl2 सूत्र वाला एक क्लोराइड बनाता है जो एक ठोस है तथा जिसका गलनांक अधिक है। आवर्त सारणी में यह तत्व सम्भवतः किस समूह के अन्तर्गत होगा?

(a) Na

(b) Mg

(c) Al

(d) Si

उत्तर:

(b) Mg

प्रश्न 3.

किस तत्व में –

  1. किस दो कोश हैं तथा दोनों इलेक्ट्रॉनों से पूरित हैं?
  2. इलेक्ट्रॉन विन्यास 2, 8, 2 है?
  3. कुल तीन कोश हैं तथा संयोजकता कोश में चार इलेक्ट्रॉन हैं।
  4. कुल दो कोश हैं तथा संयोजकता कोश में तीन इलेक्ट्रॉन हैं।
  5. दूसरे कोश में पहले कोश से दो गुने इलेक्ट्रॉन हैं।

उत्तर:

  1. निऑन (Ne)।
  2. मैग्नीशियम (Mg)।
  3. सिलिकॉन (Si)।
  4. बोरॉन (B)।
  5. कार्बन (C)।

प्रश्न 4.

(a) आवर्त सारणी में बोरॉन के स्तम्भ के सभी तत्वों के कौन-से गुणधर्म समान हैं?

(b) आवर्त सारणी में फ्लुओरीन के स्तम्भ के सभी तत्वों के कौन-से गुणधर्म समान हैं?

उत्तर:

(a)

  1. इन सभी तत्वों के बाह्यतम कोश में तीन संयोजी इलेक्ट्रॉन हैं।
  2. ये सभी तीन इलेक्ट्रॉन त्यागकर तीन धनावेशों युक्त धनायन बनाते हैं।
  3. ये सभी त्रिसंयोजक हैं।

(b)

  1. सभी तत्वों के बाह्यतम कोश में सात इलेक्ट्रॉन हैं।
  2. सभी तत्व एक इलेक्ट्रॉन ग्रहण करके एक इकाई आवेशयुक्त ऋणायन बनाते हैं।
  3. सभी हैलोजेन कहलाते हैं तथा धातुओं के हैलाइड बनाते हैं।
  4. सभी हाइड्रोजन से संयुक्त होकर हैलोजेनिक अम्ल बनाते हैं।

प्रश्न 5.

एक परमाणु का इलेक्ट्रॉनिक विन्यास 2, 8, 7 है –

  1. इस तत्व की परमाणु संख्या क्या है?
  2. निम्नलिखित में किस तत्व के साथ इसकी रासायनिक समानता होती है? (परमाणु संख्या कोष्ठक में दी गई है।): N (7), F (9), P(15), Ar (18)।

उत्तर:

  1. परमाणु संख्या = 17 है।
  2. F(9) जहाँ 9 = 2, 7

प्रश्न 6.

आवर्त सारणी में तीन तत्व A, B तथा C की स्थिति निम्न प्रकार है –

समूह 16                        समूह 17

―                                      ―

―                                      A

―                                      ―

B                                    C

अब बताइए कि –

(a) A धातु है या अधातु।

(b) A की अपेक्षा C अधिक अभिक्रियाशील है या कम।

(c) C का साइज B से बड़ा होगा या छोटा।

(d) तत्व A किस प्रकार के आयन धनायन या ऋणायन बनाएगा?

उत्तर:

(a) A अधातु है।

(b) A की अपेक्षा C कम क्रियाशील है।

(c) C का साइज B से छोटा होगा।

(d) A ऋणायन बनाएगा।

प्रश्न 7.

नाइट्रोजन (परमाणु संख्या 7) तथा फॉस्फोरस (परमाणु संख्या 15) आवर्त सारणी के समूह 15 के सदस्य हैं। इन दोनों तत्वों का इलेक्ट्रॉनिक विन्यास लिखिए। इनमें से कौन-सा तत्व अधिक ऋण विद्युत होगा? और क्यों?

उत्तर:

N 7 = 2, 5; P 15 = 2, 8, 5

नाइट्रोजन तत्व फॉस्फोरस तत्व से अधिक ऋण विद्युती होगा, क्योंकि इस समूह में ऊपर से नीचे जाने पर तत्वों की इलेक्ट्रॉन ग्रहण करने की प्रवृत्ति कम होती जाती है।

प्रश्न 8.

तत्वों के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास का आधुनिक आवर्त सारणी में तत्व की स्थिति से क्या सम्बन्ध है?

उत्तर:

तत्वों के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास का आधुनिक आवर्त सारणी में तत्वों की स्थिति से गहरा सम्बन्ध है। कोशों की कुल संख्या से तत्व का आवर्त निर्धारित होता है और संयोजी इलेक्ट्रॉनों से तत्व का समूह निर्धारित होता है।

प्रश्न 9.

आधुनिक आवर्त सारणी में कैल्सियम (परमाणु संख्या 20) के चारों ओर 12, 19, 21 तथा 38 परमाणु संख्या वाले तत्व स्थित हैं। इनमें से किन तत्वों के भौतिक एवं रासायनिक गुणधर्म कैल्सियम के समान हैं?

उत्तर:

परमाणु संख्या 12 एवं 38 वाले तत्वों के भौतिक एवं रासायनिक गुणधर्म कैल्सियम के समान

प्रश्न 10.

आधुनिक आवर्त सारणी और मैण्डलीफ की आवर्त सारणी में तत्वों की व्यवस्था की तुलना कीजिए।

उत्तर:

आधुनिक दीर्घाकार आवर्त सारणी में उपसमूह A और B को अलग-अलग कर दिया गया जिससे मैण्डलीफ की आवर्त सारणी में भिन्न गुणों वाली क्षार धातुएँ तथा क्षारीय मुद्रा धातुएँ अलग-अलग हो गईं। इस प्रकार यह विसंगति दूर हो गई। इस सारणी में कुल 18 समूह बनाए गए जिसमें उत्कृष्ट तत्वों (अक्रियशील गैसों) को पृथक् 18वाँ समूह मिल गया। आधुनिक आवर्त सारणी का आधार परमाणु द्रव्यमान के स्थान पर परमाणु क्रमांक को दिया गया जिससे समस्थानिकों एवं समभारिकों की विसंगतियाँ दूर हो गईं तथा भारी तत्वों के पहले आने की विसंगति भी स्वयं दूर हो गई है। शेष हाइड्रोजन, एक्टिनाइड श्रेणी एवं लैन्थेनाइड श्रेणी की यथास्थिति है। सभी बाद में खोजे गए तत्वों को इस सारणी में उपयुक्त स्थान मिल चुका है। इससे 6 के स्थान पर 7 आवर्त हैं।

MP Board Class 10th Science Chapter 5 परीक्षोपयोगी अतिरिक्त प्रश्नोत्तर

MP Board Class 10th Science Chapter 5 वस्तुनिष्ठ प्रश्न

बहुविकल्पीय प्रश्न

प्रश्न 1.

किस तत्व तक अष्टक नियम उपयोगी है?

(a) ऑक्सीजन।

(b) कैल्सियम।

(c) कोबाल्ट।

(d) पोटैशियम।

उत्तर:

(b) कैल्सियम।

प्रश्न 2.

मैण्डलीफ के आवर्त नियम के अनुसार तत्वों को आवर्त तालिका में व्यवस्थित किया गया क्रय

(a) बढ़ते परमाणु क्रमांक।

(b) घटते परमाणु क्रमांक।

(c) बढ़ते परमाणु द्रव्यमान।

(d) घटते परमाणु द्रव्यमान।

उत्तर:

(c) बढ़ते परमाणु द्रव्यमान।

प्रश्न 3.

मैण्डलीफ की आवर्त तालिका में कुछ रिक्त स्थान भविष्य में खोजे जाने वाले तत्वों के लिए छोड़े गए। निम्न में से किस तत्व को आवर्त तालिका में स्थान मिला?

(a) जर्मेनियम।

(b) क्लोरीन।

(c) ऑक्सीजन।

(d) सिलिकॉन।

उत्तर:

(a) जर्मेनियम।

प्रश्न 4.

निम्न में से कौन से कथन आधुनिक आवर्त तालिका के सन्दर्भ में असत्य हैं –

(i) आधुनिक आवर्त तालिका में तत्वों को उनके घटते परमाणु क्रमांक के क्रम में व्यवस्थित किया गया है।

(ii) आधुनिक आवर्त तालिका में तत्वों को उनके बढ़ते परमाणु द्रव्यमान के क्रम में व्यवस्थित किया गया है।

(iii) आवर्त तालिका में समस्थानिकों को आसन्न समूहों में रखा गया है।

(iv) आधुनिक आवर्त तालिका में तत्वों को उनके बढ़ते परमाणु क्रमांक के क्रम में रखा गया है।

(a) केवल (i)

(b) (i), (ii) एवं (iii)

(c) (i), (ii) एवं (iv)

(d) केवल (iv)।

उत्तर:

(b) (i), (ii) एवं (iii)

प्रश्न 5.

निम्नलिखित में कौन-सा कथन आधुनिक आवर्त तालिका के सन्दर्भ में सत्य है?

(a) इसमें 18 क्षैतिज पंक्तियाँ हैं जो आवर्त कहलाते हैं।

(b) इसमें 7 ऊर्ध्वाधर स्तम्भ हैं जो आवर्त कहलाते हैं।

(c) इसमें 18 ऊर्ध्वाधर स्तम्भ हैं जो समूह कहलाते हैं।

(d) इसमें 7 क्षैतिज पंक्तियाँ हैं जो समूह कहलाती हैं।

उत्तर:

(c) इसमें 18 ऊर्ध्वाधर स्तम्भ हैं जो समूह कहलाते हैं।

प्रश्न 6.

दिए हुए तत्वों A, B, C, D एवं E जिनके परमाणु क्रमांक क्रमश: 2, 3, 7, 10 एवं 30 समान समूह के तत्व हैं?

(a) A, B, C

(b) B, C, D

(c) A, D, E

(d) B, D, E

उत्तर:

(b) B, C, D

प्रश्न 7.

दिए हुए तत्व A, B, C, D एवं E के परमाणु क्रमांक क्रमश: 9, 11, 17, 12 एवं 13 हैं। निम्न में से कौन-सा युग्म समान समूह का है?

(a) A एवं B

(b) B एवं D

(c) A एवं C

(d) D एवं E

उत्तर:

(c) A एवं C

प्रश्न 8.

आधुनिक आवर्त तालिका में इलेक्ट्रॉन विन्यास 2, 8 वाले तत्व की क्या स्थिति होगी?

(a) समूह 8

(b) समूह 2

(c) समूह 18

(d) समूह 10

उत्तर:

(c) समूह 18

प्रश्न 9.

सभी कार्बनिक यौगिकों का सबसे अधिक महत्वपूर्ण तत्व सम्बन्धित है –

(a) समूह 1 से।

(b) समूह 14 से।

(c) समूह 15 से।

(d) समूह 16 से।

उत्तर:

(b) समूह 14 से।

प्रश्न 10.

आवर्त 2 के तत्वों की बाह्यतम कक्षा कौन-सी है?

(a) K कोश।

(b) L कोश।

(c) M कोश।

(d) N कोश।

उत्तर:

(b) L कोश।

प्रश्न 11.

निम्न में से कौन-सा तत्व सर्वाधिक संयोजी इलेक्ट्रॉन रखता है?

(a) Na

(b) Al

(c) Si

(d) P

उत्तर:

(d) P

प्रश्न 12.

निम्न में से कौन-सा क्रम तत्वों O, F एवं N की परमाणु त्रिज्याओं के सही बढ़ते क्रम को प्रदर्शित करता है?

(a) O, F, N

(b) N, F, O

(c) O, N, F

(d) F, O, N

उत्तर:

(d) F, O, N

प्रश्न 13.

निम्नलिखित में से कौन-सा तत्व सर्वाधिक परमाणु त्रिज्या रखता है?

(a) Na

(b) Mg

(c) K

(d) Ca

उत्तर:

(c) K

प्रश्न 14.

निम्न में से कौन-सा तत्व आसानी से एक इलेक्ट्रॉन त्यागेगा?

(a) Mg

(b) Na

(c) K

(d) Ca

उत्तर:

(c) K

प्रश्न 15.

निम्न में से कौन-सा तत्व आसानी से इलेक्ट्रॉन त्यागता है?

(a) Na

(b) F

(c) Mg

(d) Al

उत्तर:

(b) F

प्रश्न 16.

निम्न में से कौन-सी विशेषताएँ किसी तत्व के समस्थानिकों से सम्बन्धित हैं?

(i) एक तत्व के सभी समस्थानिकों के परमाणु द्रव्यमान समान होते हैं।

(ii) एक तत्व के सभी समस्थानिकों के परमाणु क्रमांक समान होते हैं।

(iii) एक तत्व के सभी समस्थानिक समान भौतिक गुणों का प्रदर्शन करते हैं।

(iv) एक तत्व के सभी समस्थानिक समान रासायनिक गुणों का प्रदर्शन करते हैं।

(a) (i), (ii) एवं (iii)

(b) (ii), (iii) एवं (iv)

(c) (ii) एवं (iii)

(d) (i) एवं (iv)

उत्तर:

(d) (i) एवं (iv)

प्रश्न 17.

निम्न तत्वों को उनके घटते धात्विक गुणों के क्रम में व्यवस्थित कीजिए Na, Si, Cl, Mg, Al.

(a) Cl > Si >Al > Mg > Na

(b) Na > Mg >Al > Si > Cl

(c) Na > Al > Mg > Cl > Si

(d) Al > Na > Si > Ca > Mg

उत्तर:

(b) Na > Mg >Al > Si > Cl

प्रश्न 18.

निम्न तत्वों को उनके बढ़ते अधात्विक गुणों के क्रम में व्यवस्थित कीजिए Li, O, C, Be, F.

(a) F < O < C < Be < Li

(b) Li < Be < C < O < F

(c) F < O < C < Be < Li

(d) F < O < Be < C < Li

उत्तर:

(b) Li < Be < C < O < F

प्रश्न 19.

ऐकाऐलुमिनियम किस प्रकार का ऑक्साइड बनाता है?

(a) EO3

(b) E3O2

(c) E2O3

(d) EO

उत्तर:

(c) E2O3

प्रश्न 20.

तीन तत्व B, Si एवं Ge हैं –

(a) धातु।

(b) अधातु।

(c) उपधातु।

(d) क्रमश: धातु. अधातु एवं उपधातु।

उत्तर:

(c) उपधातु

प्रश्न 21.

निम्न में से कौन-सा तत्व अम्लीय ऑक्साइड बनाता है?

(a) परमाणु क्रमांक 7 वाला तत्व।

(b) परमाणु क्रमांक 3 वाला तत्व।

(c) परमाणु क्रमांक 12 वाला तत्व।

(d) परमाणु क्रमांक 19 वाला तत्व।

उत्तर:

(a) परमाणु क्रमांक 7 वाला तत्व।

प्रश्न 22.

परमाणु क्रमांक 14 वाला तत्व कठोर है तथा अम्लीय ऑक्साइड एवं सहसंयोजी हैलाइड बनाता है। वह तत्व निम्नलिखित में से किस वर्ग का तत्व है?

(a) धातु।

(b) उपधातु।

(c) अधातु।

(d) वामहस्त तत्व।

उत्तर:

(b) उपधातु।

प्रश्न 23.आवर्त तालिका के किसी समूह में ऊपर से नीचे जाने पर निम्न में से कौन एक नहीं बढ़ेगा?

(a) परमाणु त्रिज्या।

(b) धात्विक प्रवृत्ति।

(c) संयोजकता।

(d) कोशों की संख्या।

उत्तर:

(c) संयोजकता।

प्रश्न 24.

आवर्त तालिका में एक आवर्त में बाएँ से दाएँ जाने पर परमाणु का आकार –

(a) बढ़ता है।

(b) घटता है।

(c) परिवर्तित नहीं होता।

(d) पहले बढ़ता है फिर घटता है।

उत्तर:

(b) घटता है।

प्रश्न 25.

निम्न में से कौन-सा तत्वों का समुच्चय उनकी बढ़ती हुई धात्विकता को दर्शाता है?

(a) Be, Mg, Ca

(b) Na, Li, K

(c) Mg, Al, Si

(d) C, O, N

उत्तर:

(a) Be, Mg, Ca

प्रश्न 26.

आवर्त तालिका में आवर्तों की संख्या होती है –

(a) 4

(b) 6

(c) 7

(d) 8

उत्तर:

(c) 7

प्रश्न 27.

कौन-सा हैलोजेन सर्वाधिक क्रियाशील है?

(a) ब्रोमीन।

(b) क्लोरीन।

(c) फ्लुओरीन।

(d) आयोडीन।

उत्तर:

(c) फ्लुओरीन।

रिक्त स्थानों की पूर्ति

  1. “मैण्डलीफ के आवर्त नियम के अनुसार तत्वों के भौतिक एवं रासायनिक गुण उनके ….. के आवर्ती फलन होते हैं।”
  2. आधुनिक आवर्त नियम के अनुसार, तत्वों के भौतिक एवं रासायनिक गुण उनके ………… के आवर्ती फलन होते हैं।
  3. दीर्घ रूप आवर्त सारणी को ………. आवर्त सारणी कहते हैं।
  4. आवर्त सारणी में ऊर्ध्वाधर स्तम्भ …………. कहलाते हैं।
  5. आवर्त सारणी में क्षैतिज पंक्तियाँ ……….. कहलाती हैं।
  6. आधुनिक आवर्त सारणी में ………… समूह हैं। (2019)

उत्तर:

  1. परमाणु द्रव्यमान।
  2. परमाणु क्रमांक।
  3. आधुनिक।
  4. समूह (ग्रुप)।
  5. आवर्त।
  6. अट्ठारह (18)।

सत्य/असत्य कथन

  1. क्षैतिज पंक्तियाँ समूह कहलाती हैं।
  2. समूह एक के तत्व क्षार धातुएँ कहलाती हैं।
  3. ऊर्ध्वाधर स्तम्भ आवर्त कहलाते हैं।
  4. समूह 17 के तत्व हेलोजेन कहलाते हैं।
  5. समूह 2 के तत्व मुद्रा धातुएँ कहलाती हैं।

उत्तर:

  1. असत्य।
  2. सत्य।
  3. असत्य।
  4. सत्य।
  5. असत्य।

एक शब्द/वाक्य में उत्तर

  1. आवर्त तालिका का निर्माण किसने किया?
  2. आधुनिक आवर्त तालिका का निर्माण किसने किया?
  3. समूह 2 के तत्वों को क्या कहा जाता है?
  4. प्रथम आवर्त में कितने तत्व हैं?
  5. द्वितीय आवर्त में कितने तत्व हैं?

उत्तर:

  1. मैण्डलीफ।
  2. बोर एवं बरी ने।
  3. क्षारीय मृदा धातुएँ।
  4. दो।
  5. आठ।

MP Board Class 10th Science Chapter 5 अति लघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.

डोबेराइनर का त्रिक नियम क्या है?

उत्तर:

डोबेराइनर का त्रिक नियम:

डोबेराइनर ने समान गुण रखने वाले तत्वों को उनके बढ़ते परमाणु द्रव्यमान के क्रम में तीन-तीन के समूह बनाए जिन्हें ‘डोबेराइनर के त्रिक’ कहते हैं। उसने एक नियम दिया जिसके अनुसार “यदि समान गुणों वाले तत्वों को उनके बढ़ते परमाणु द्रव्यमान के क्रम में तीन-तीन के समूह में व्यवस्थित किया जाए तो बीच वाले तत्व का परमाणु द्रव्यमान शेष दो तत्वों के परमाणु द्रव्यमान का लगभग औसत होता है।”

प्रश्न 2.

न्यूलैण्ड का अष्टक नियम क्या है?

उत्तर:

न्यूलैण्ड का अष्टक नियम:

“यदि तत्वों को उनके बढ़ते परमाणु द्रव्यमान के क्रम में व्यवस्थित किया जाए तो हर आठवाँ तत्व समान गुण रखता है।”

प्रश्न 3.

मैण्डलीफ का आवर्त नियम क्या है?

उत्तर:

मैण्डलीफ का आवर्त नियम-“तत्वों के भौतिक एवं रासायनिक गुण उनके परमाणु द्रव्यमान के आवर्ती फलन होते हैं।”

प्रश्न 4.

मैण्डलीफ की आवर्त सारणी से क्या समझते हो?

उत्तर:

मैण्डलीफ की आवर्त सारणी-“मैण्डलीफ ने तत्वों को एक सारणी में उनके गुणों एवं परमाणु द्रव्यमान के बढ़ते क्रम में व्यवस्थित किया जिसमें 7 क्षैतिज पंक्तियाँ हैं जिन्हें आवर्त कहते हैं तथा 9 ऊर्ध्व स्तम्भ हैं जिन्हें समूह (वर्ग) कहते हैं (यद्यपि प्रारम्भ में 8 वर्ग थे, लेकिन बाद में अक्रिय गैसों का शून्य समूह और जोड़ दिया गया) यह सारणी मैण्डलीफ की आवर्त सारणी कहलाती है।”

प्रश्न 5.

आधुनिक आवर्त नियम क्या है? इसको किसने प्रतिपादित किया? अथवा मोजले का आधुनिक आवर्त नियम क्या है?

उत्तर:

आधुनिक आवर्त नियम:

मोजले ने एक नियम का प्रतिपादन किया जिसके अनुसार, “तत्वों के भौतिक एवं रासायनिक गुण उनके परमाणु क्रमांक के आवर्ती फलन होते हैं।” यह नियम आधुनिक आवर्त नियम कहलाता है।

प्रश्न 6.

नई आधुनिक आवर्त सारणी में समस्थानिकों के स्थान निर्धारण की समस्या कैसे हल होगी?

उत्तर:

चूँकि आधुनिक आवर्त सारणी तत्वों के परमाणु क्रमांकों पर आधारित है और समस्थानिकों के परमाणु क्रमांक समान हैं। इसलिए उनको एक ही समूह में रखना औचित्यपूर्ण है।

प्रश्न 7.

प्रथम एवं द्वितीय समूह के तत्व किस नाम से जाने जाते हैं?

उत्तर:

प्रथम समूह के तत्व क्षार धातुएँ तथा द्वितीय समूह के तत्व क्षारीय मृदा धातुओं के नाम से जाने जाते हैं।

प्रश्न 8.

बाएँ से दाएँ जाने पर किसी आवर्त में आयनन ऊर्जा किस प्रकार परिवर्तित होती है?

उत्तर:

किसी आवर्त में बाएँ से दाएँ जाने पर आयनन ऊर्जा में वृद्धि होती है।

प्रश्न 9.

समान गुणों वाले तीन तत्व A, B और C के परमाणु द्रव्यमान क्रमशः X, Y एवं Z हैं। Yका द्रव्यमान लगभग X एवं Z के द्रव्यमानों का औसत मान है। तत्वों की इस प्रकार की व्यवस्था क्या कहलाती है? ऐसे तत्वों के एक समूह का उदाहरण दीजिए।

उत्तर:

तत्वों की उपर्युक्त व्यवस्था डोबेराइनर के त्रिक नाम से जानी जाती है। उदाहरण-लीथियम, सोडियम एवं पोटैशियम।

प्रश्न 10.

तत्वों को उनके बढ़ते परमाणु द्रव्यमान के क्रम में निम्न प्रकार व्यवस्थित किया गया है – F, Na, Mg, Al, Si, P, S, Cl, Ar, K.

(a) तत्वों के समान गुणों वाले दो समूहों का चयन कीजिए।

(b) तत्वों की व्यवस्था का क्रम तत्वों के वर्गीकरण के किस नियम को प्रदर्शित करता है?

उत्तर:

(a)

  1. F एवं Cl
  2.  Na एवं K

(b) न्यूलैण्ड का अष्टक नियम।

प्रश्न 11.

मैण्डलीफ की आवर्त तालिका में तत्वों को उनके बढ़ते हुए परमाणु द्रव्यमान के क्रम में व्यवस्थित किया गया फिर कोबाल्ट जिसका परमाणु दव्यमान 58.93 amu है, क्या निकैल जिसका परमाणु द्रव्यमान 58.71 है, से पहले रखा गया? कारण दीजिए।

उत्तर:

यद्यपि आवर्त तालिका का सृजन परमाणु द्रव्यमान के बढ़ते क्रम के आधार पर किया गया, लेकिन गुणों की समानता और उनकी क्रमबद्धता को भी ध्यान में रखा गया इसलिए कोबाल्ट को निकैल से पहले रखा गया।

प्रश्न 12.

“आधुनिक आवर्त तालिका में हाइड्रोजन का एक विशिष्ट स्थान है।” इस कथन का औचित्य कीजिए।

उत्तर:

हाइड्रोजन प्रथम समूह के तत्व क्षार धातुओं एवं 17वें समूह के तत्व हैलोजेनों से गुणों में समानता रखता है। इसलिए इसका आधुनिक आवर्त तालिका में विशिष्ट स्थान है।

प्रश्न 13.

मैण्डलीफ के द्वारा भविष्यवाणी किए गए तत्वों एका सिलिकॉन एवं एका ऐलुमिनियम के क्लोराइडों के सूत्र लिखिए।

उत्तर:

मैण्डलीफ के द्वारा भविष्यवाणी किए गए तत्व क्रमशः एका-सिलिकॉन जरमेनियम Ge है जिसकी संयोजकता 4 है तथा एका-ऐलुमिनियम गैलियम Ga है जिसकी संयोजकता 3 है। अत: इनके क्लोराइड के सूत्र क्रमश: GeCl4 एवं GaCl3 होंगे।

प्रश्न 14.

अगर एक तत्व X समूह 14 में रखा गया है। इसके क्लोराइड का सूत्र एवं बन्ध की प्रकृति क्या होगी?

उत्तर:

चूँकि तत्व X समूह 14 में रखा गया है। अतः इसकी संयोजकता 14 – 10 = 4 होगी। इसलिए इसके क्लोराइड का सूत्र XCl4 होगा तथा इसके बन्धों की प्रकृति सहसंयोजी होगी।

प्रश्न 15.

दो नमूनों X एवं Y की परमाणु त्रिज्याओं की तुलना कीजिए तथा अपने उत्तर का कारण भी दीजिए।

  1. X में 12 प्रोटॉन एवं 12 इलेक्ट्रॉन हैं।
  2. Y में 12 प्रोटॉन एवं 10 इलेक्ट्रॉन हैं।

उत्तर:

नमूना X एक तत्व है, जबकि Y उसका धनायन। इसलिए X की परमाणु त्रिज्या Y की परमाणु त्रिज्या से अधिक होगी।

प्रश्न 16.

निम्नलिखित धातुओं को उनके धात्विक गुणों के आरोही क्रम में व्यवस्थित कीजिए Mg, Ca, K, Ge, Ga.

उत्तर:

Ge < Ga < Mg < Ca < K.

प्रश्न 17.

संयोजकता को परिभाषित कीजिए। (2019)

उत्तर:

संयोजकता:

“किसी तत्व की दूसरे किसी तत्व से संयुक्त होने की प्रवृत्ति उस तत्व की संयोजकता कहलाती है।” दूसरे शब्दों में, “इलेक्ट्रॉनों की वह संख्या जो किसी तत्व के परमाणु द्वारा स्थायी संरचना प्राप्त करने हेतु दी या ली जाती है अथवा साझा की जाती है, उस तत्व की संयोजकता कहलाती है।”

MP Board Class 10th Science Chapter 5 लघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.परमाणु क्रमांक 16 के तत्व का उदाहरण लेकर स्पष्ट कीजिए कि आधुनिक आवर्त सारणी में किसी तत्व का स्थान उस तत्व के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास से किस प्रकार सम्बन्धित होता है तथा किसी तत्व के परमाणु क्रमांक के आधार पर उसकी संयोजकता किस प्रकार परिकलित की जाती है।

उत्तर:

परमाणु क्रमांक 16 वाले तत्व का इलेक्ट्रॉनिक विन्यास 2, 8, 6 है –

(1) तत्व के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास में उपस्थित कोशों (कक्षाओं) की संख्या उस तत्व का आधुनिक आवर्त तालिका में आवर्त की संख्या को निर्धारित करती है। जैसे उक्त तत्व का आवर्त 3 है।

(2) प्रथम आवर्त होने पर अर्थात् केवल एक कोश होने पर यदि संयोजी इलेक्ट्रॉन एक है तो प्रथम समूह और यदि दो संयोजी इलेक्ट्रॉन हैं तो समूह 18 होगा।

द्वितीय अथवा तृतीय आवर्त अर्थात् दो अथवा तीन कोश होने पर संयोजी इलेक्ट्रॉन 1 से 8 तक क्रमशः प्रथम, द्वितीय, 13वाँ, 14वाँ, 15वाँ, 16वाँ, 17वाँ एवं 18वाँ, समूह होगा।

यहाँ परमाणु संख्या 16 का विन्यास 2, 8, 6 है जो तृतीय आवर्त का तत्व है तथा संयोजी इलेक्ट्रॉन 6 है इसलिए यह 16वें समूह का तत्व है।

(3) परमाणु क्रमांक से उसका इलेक्ट्रॉनिक विन्यास ज्ञात करने पर यदि संयोजी इलेक्ट्रॉन (बाह्यतम कोश में उपस्थित इलेक्ट्रॉनों की संख्या) यदि 4 या इससे कम है तो वही संख्या उसकी संयोजकता होगी। यदि 5 या 5 से अधिक है तो उस संख्या में से 8 घटाने पर प्राप्त संख्या ही उसकी संयोजकता होगी।

प्रश्न 2.

कोई तत्व ‘X’ आधुनिक आवर्त सारणी के तीसरे आवर्त और 16वें समह में स्थित है।

(a) ‘X’ में संयोजकता इलेक्ट्रॉनों की संख्या तथा इसकी संयोजकता निर्धारित कीजिए।

(b) ‘X’ की हाइड्रोजन के साथ अभिक्रिया द्वारा बने यौगिक का अणुसूत्र लिखिए तथा इसकी इलेक्ट्रॉन बिन्दु संरचना खींचिए।

(c) तत्व ‘X’ का नाम लिखिए तथा उल्लेख कीजिए कि यह तत्व धातु है अथवा अधातु है।

उत्तर:

चूँकि तत्व ‘X’ आधुनिक आवर्त सारणी के तृतीय आवर्त एवं 16वें समूह का तत्व है। इसलिए इसकी परमाणु संख्या एवं इलेक्ट्रॉन संख्या 16 है जिसका इलेक्ट्रॉन विन्यास 16 = 2, 8, 6 है।

(a) ‘X’ में संयोजकता इलेक्ट्रॉनों की संख्या = 6

एवं संयोजकता = 6 – 8 = – 2

(b) ‘X’ की हाइड्रोजन के साथ बने यौगिक का अणुसूत्र = H2X

(c) तत्व X का नाम = सल्फर (S)

यह एक अधातु तत्व है।

प्रश्न 3.

किसी तत्व ‘X’ की द्रव्यमान संख्या 35 तथा इसके न्यूट्रॉनों की संख्या 18 है। ‘X’ की परमाणु संख्या और उसका इलेक्ट्रॉन विन्यास लिखिए। ‘X’ की समूह संख्या, आवर्त संख्या और संयोजकता का उल्लेख भी कीजिए।

उत्तर:

चूँकि ‘X’ की द्रव्यमान संख्या A = 35 एवं न्यूट्रॉनों की संख्या n = 18 अत: उसकी परमाणु संख्या Z = A – n

⇒ Z = 35 – 18 = 17

इलेक्ट्रॉनों की संख्या = द्रव्यमान संख्या = 17

इलेक्ट्रॉन विन्यास 17 = 2, 8, 7

X की समूह संख्या = 17

X की आवर्त संख्या = 3

X की संयोजकता = 7 – 8 = – 1

प्रश्न 4.

आधुनिक आवर्त सारणी में आवों और समूहों की संख्या लिखिए।

  1. किसी आवर्त में बायीं ओर से दायी ओर जाने पर तथा
  2. किसी समूह में ऊपर से नीचे आने पर तत्वों के धात्विक अभिलक्षणों में किस प्रकार का परिवर्तन होता है? अपने उत्तर की कारण सहित पुष्टि कीजिए।

उत्तर:

आधुनिक आवर्त सारणी में आवर्तों की संख्या = 7 एवं समूहों की संख्या = 18 है।

  1. किसी आवर्त में बाईं ओर से दाईं ओर जाने पर धात्विक अभिलक्षणों का ह्रास होता है अर्थात् कमी आती है।
  2. किसी समूह में ऊपर से नीचे की ओर जाने पर धात्विक अभिलक्षणों में वृद्धि होती है।

प्रश्न 5.

Na, Mg एवं Al आधुनिक आवर्त सारणी के तीसरे आवर्त के तत्व हैं जिनकी समूह संख्या क्रमशः 1, 2 और 13 है। इनमें से किस तत्व की –

(a) संयोजकता अधिकतम

(b) परमाणु त्रिज्या अधिकतम

(c) रासायनिक अभिक्रियाशील अधिकतम है?

प्रत्येक के लिए कारण सहित अपने उत्तर की पुष्टि कीजिए।

उत्तर:

चूँकि Na, Mg एवं Al तृतीय आवर्त के क्रमशः समूह 1, 2 एवं 13 के तत्व हैं। इसलिए इनका परमाणु क्रमांक क्रमश: 11, 12 एवं 13 है, जिनका इलेक्ट्रॉन विन्यास निम्नलिखित है

Na = 11 = 2, 8, 1 में संयोजी इलेक्ट्रॉन = 1 अर्थात् संयोजकता = 1

Mg = 12 = 2, 8, 2 में संयोजी इलेक्ट्रॉन = 2 अर्थात् संयोजकता = 2

Al= 13 = 2, 8, 3 में संयोजी इलेक्ट्रॉन = 3 अर्थात् संयोजकता = 3

अतः

(a) अधिकतम 3 संयोजकता वाला तत्व Al है, क्योंकि इसके संयोजकता कोश में सर्वाधिक संयोजी इलेक्ट्रॉन है।

(b) अधिकतम परमाणु त्रिज्या वाला तत्व Na है, क्योंकि किसी आवर्त में बाएँ से दाएँ जाने पर उसका साइज अर्थात् परमाणु त्रिज्या कम होती जाती है।

(c) अधिकतम अभिक्रियाशीलता वाला तत्व Na है, क्योंकि किसी आवर्त में 14वें समूह तक अभिक्रियाशीलता घटती है।

प्रश्न 6.

क्या तत्वों के निम्नलिखित समूह डोबेराइनर के त्रिक की तरह वर्गीकृत किए जा सकते है?

(a) Na, Si, Cl

(b) Be, Mg, Ca.

परमाणु द्रव्यमान क्रमशः Be = 9, Na = 23, Mg = 24, Si = 28, Cl= 35 एवं Ca = 40 हैं। सहित व्याख्या कीजिए।

उत्तर:

(a) नहीं, क्योंकि ये तत्व समान गुणों वाले नहीं हैं, जबकि डोबेराइनर के त्रिक के लिए समान गुणों वाले तत्व होने चाहिए। यद्यपि सिलिकॉन (Si) का परमाणु द्रव्यमान सोडियम (Na) एवं क्लोरीन (Cl) के परमाणु द्रव्यमानों के औसत के लगभग बराबर है।

(b) हाँ, ये डोबेराइनर के त्रिक के रूप में वर्गीकृत किए जा सकते हैं, क्योंकि ये समान गुणों वाले तत्व हैं तथा Be एवं Ca के परमाणु द्रव्यमानों क्रमशः 9 एवं 40 का औसत द्रव्यमान

जो Mg के परमाणु द्रव्यमान 24 के लगभग बराबर है।

प्रश्न 7. निम्न तत्वों को उनके परमाणु त्रिज्याओं के आरोही क्रम (बढ़ते क्रम) में व्यवस्थित कीजिए –

(a) Li, Be, F, N

(b) Cl, At, Br, I.

उत्तर:

(a) चूँकि तत्व Li, Be, F एवं N एक ही आवर्त द्वितीय के तत्व हैं जिनका बाएँ से दाएँ क्रम है Li, Be, N एवं F और चूँकि किसी आवर्त में बाएँ से दाएँ जाने पर परमाणु त्रिज्या (परमाणु साइज) घटती जाती है।

अतः परमाणु त्रिज्या का बढ़ता क्रम F < N < Be < Li है।

(b) चूँकि तत्व Cl, At, Br एवं I एक ही समूह 17 के तत्व हैं जिनका ऊपर से नीचे क्रम है Cl, Br, I एवं At और चूँकि किसी समूह में ऊपर से नीचे जाने पर परमाणु त्रिज्या (परमाणु साइज) बढ़ती जाती है।

अतः परमाणु त्रिज्या का बढ़ता क्रम Cl < Br < I < At है।

प्रश्न 8.

निम्न तत्वों में से जिनके इलेक्ट्रॉनिक विन्यास नीचे दिए गए हैं धातु तत्वों की पहचान करके उनके नाम लिखिए –

(a) 2, 8, 2

(b) 2, 8, 1

(c) 2, 8, 7

(d) 2, 1

उत्तर:

उपर्युक्त में धातु तत्व हैं –

(a) 2, 8, 2

(b) 2, 8, 1

(d) 2, 1

इनके नाम हैं –

(a) मैग्नीशियम।

(b) सोडियम।

(d) लीथियम।

प्रश्न 9. निम्न प्रगुणों वाले तत्वों की पहचान कीजिए। एवं उन्हें अभिक्रियाशीलता के आरोही (बढ़ते हुए) क्रम में व्यवस्थित कीजिए –

(a) एक तत्व जो मुलायम एवं अधिक अभिक्रियाशील है।

(b) चूना पत्थर की महत्वपूर्ण घटक धातु।

(c) कमरे के ताप पर द्रव अवस्था में रहने वाली धातु।

उत्तर:

(a) सोडियम (Na) अथवा पोटैशियम (K)।

(b) कैल्सियम (Ca) एवं

(c) मरकरी (Hg)।

अभिक्रियाशीलता के आरोही (बढ़ते हुए) क्रम में Hg < Ca < Na < K

प्रश्न 10.

कुछ तत्वों की प्रगुण नीचे दिए गए हैं। आप आधुनिक आवर्त तालिका में इनको कहाँ खोजेंगे?

(a) एक धातु जो मुलायम है तथा मिट्टी के तेल में रखी जाती है।

(b) एक परिवर्तनीय (एक से अधिक) संयोजकता वाला तत्व जो जल के अन्दर रखा जाता है।

(c) एक चतुसंयोजी तत्व जो कार्बनिक रसायन को आधार प्रदान करता है।

(d) परमाणु संख्या 2 वाला अक्रिय गैस तत्व।

(e) एक तत्व जिसके ऑक्साइड की पतली सतह दूसरे तत्व को एनोडाइजिंग प्रक्रिया के द्वारा संक्षारण रहित बनाती है।

उत्तर:

(a) सोडियम (Na) आवर्त तालिका के तृतीय आवर्त एवं प्रथम समूह का तत्व। अथवा पोटैशियम (K) आवर्त तालिका के चतुर्थ आवर्त एवं समूह एक का तत्व।

(b) फॉस्फोरस (P) तृतीय आवर्त एवं 15वें समूह का तत्व।

(c) कार्बन (C) द्वितीय आवर्त एवं 14वें समूह का तत्व।

(d) हीलियम (He) प्रथम आवर्त एवं समूह 18 का तत्व।

(e) ऐलुमिनियम (Al) तृतीय आवर्त एवं 13वें समूह का तत्व।

प्रश्न 11.

तत्वों का कौन-सा समूह आवर्त तालिका में पूर्व में व्यवस्थित तत्वों की स्थिति में व्यवधान डाले बिना मैण्डलीफ की आवर्त तालिका में रखा जा सकता है? कारण दीजिए।

उत्तर:

उत्कृष्ट या अक्रिय गैसें।

मैण्डलीफ के आवर्त वर्गीकरण में परमाणु द्रव्यमान को तत्वों के भौतिक एवं रासायनिक गुणों का आवर्ती फलन का आधार लेते हुए उनके भौतिक एवं रासायनिक गुणों को ध्यान में रखते हुए आवर्त तालिका में व्यवस्थित किया। उत्कृष्ट गैसें अक्रिय होने के कारण एक पृथक् समूह में रखी जाती है और जिससे वास्तविक व्यवस्था में कोई व्यवधान नहीं होता।

प्रश्न 12.

मैण्डलीफ द्वारा तत्वों के वर्गीकरण में अपनाई गई प्रक्रिया की एक संक्षिप्त रूपरेखा दीजिए। उसने “आवर्त नियम” की व्यवस्था कैसे की?

उत्तर:

मैण्डलीफ द्वारा तत्वों के वर्गीकरण के समय मात्र 63 तत्व ज्ञात थे इन्हीं तत्वों के गुणों के आधार पर निम्न प्रकार उसने तत्वों का वर्गीकरण किया –

  1. इन तत्वों के ऑक्सीजन एवं हैलोजेनों के साथ बने यौगिकों, ऑक्साइड एवं हैलाइड का अध्ययन किया।
  2. समान गुणों वाले तत्वों को एक साथ एक वर्ग में रखा।
  3. मैण्डलीफ ने प्रेक्षण किया कि तत्व स्वत: ही बढ़ते हुए परमाणु द्रव्यमान के क्रम में व्यवस्थित हो गए। इस प्रकार मैण्डलीफ ने आवर्त नियम की व्यवस्था की।

MP Board Class 10th Science Chapter 5 दीर्घ उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.

एक तत्व आवर्त तालिका के तृतीय आवर्त के समूह द्वितीय का तत्व है, ऑक्सीजन की उपस्थिति में जलकर क्षारकीय ऑक्साइड बनाता है।

(a) उस तत्व की पहचान कीजिए।

(b) उस तत्व का इलेक्ट्रॉन विन्यास लिखिए।

(c) जब यह तत्व वायु की उपस्थिति में जलता है तो उस समय होने वाली अभिक्रिया का रासायनिक सूत्र लिखिए।

(d) जब यह ऑक्साइड जल में घुलता है तो होने वाली अभिक्रिया का रासायनिक सूत्र लिखिए।

(e) इस ऑक्साइड के बनने का इलेक्ट्रॉन बिन्दु आरेख बनाइए।

उत्तर:

(a) उक्त तत्व मैग्नीशियम (Mg) है।

(b) मैग्नीशियम (Mg) का इलेक्ट्रॉन विन्यास

2, 8, 1

प्रश्न 2.

एक तत्व X (परमाणु क्रमांक 17) दूसरे तत्व Y (परमाणु क्रमांक 20) से अभिक्रिया करके द्वि-संयोजी हैलाइड बनाता है।

(a) X और Y तत्वों को आवर्त तालिका में कहाँ रखा गया है?

(b) तत्व X एवं Y को धातु, अधातु एवं उपधातु में वर्गीकृत कीजिए।

(c) तत्व Y के ऑक्साइड की प्रकृति कैसे होगी? बनने वाले यौगिक में आबन्ध की प्रकृति बताइए।

उत्तर:

(a) X आवर्त तालिका के समूह 17 एवं आवर्त तृतीय का तत्व है, जबकि Y समूह 2 के चतुर्थ आवर्त का तत्व है।

(b) X एक अधातु तत्व है एवं Y एक धातु तत्व है।

(c) ऑक्साइड क्षारकीय प्रकृति का है तथा इसमें बनने वाले आबन्ध की प्रकृति विद्युत् संयोजी (आयनिक) बन्ध है।

प्रश्न 3.

(a) तत्वों की विद्युत् धनात्मकता समूह में नीचे जाने पर बढ़ती है तथा आवर्त में दाएँ जाने पर घटती है।

(b) तत्वों की विद्युत् ऋणात्मकता समूह में नीचे जाने पर घटती है तथा आवर्त में दाएँ जाने पर बढ़ती है।

(c) परमाणु साइज समूह में नीचे जाने पर बढ़ती है तथा आवर्त में दाएँ जाने पर घटती है।

(d) धात्विक प्रकृति (धात्विकता) समूह में नीचे जाने पर बढ़ती है तथा आवर्त में दाएँ जाने पर घटती है।

आवर्त तालिका के उपर्युक्त लक्षणों को ध्यान में रखकर परमाणु संख्या 3 से 9 के तत्वों के सन्दर्भ में निम्न प्रश्नों के उत्तर दीजिए

(i) उनमें अधिकतम इलेक्ट्रो-धनात्मक तत्व का नाम बताइए।

(ii) उनमें अधिकतम इलेक्ट्रो-ऋणात्मक तत्व का नाम बताइए।

(iii) उनमें न्यूनतम परमाणु साइज वाले तत्व का नाम बताइए।

(iv) उस तत्व का नाम बताइए जो उपधातु है।

(v) उस तत्व का नाम बताइए जिसकी संयोजकता सर्वाधिक है।

उत्तर:

(i) लीथियम (Li) परमाणु संख्या: 3

(ii) फ्लु ओरीन (F) परमाणु संख्या: 9

(iii) फ्लु ओरीन (F) परमाणु संख्या: 9

(iv) बोरॉन (B) परमाणु संख्या: 5

(v) कार्बन (C) परमाणु संख्या: 6, क्षमता संयोजकता (4)

I am SK the author of this website, here information related to various schemes and board exams is shared.

close